[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

महिला IAS ने की नोटों से गांधी की फोटो हटाने की मांग, गोडसे को कहा- थैंक्यू

नई दिल्ली  :   महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक ट्वीट कर महाराष्ट्र की एक आईएएस अफसर विवादों में आ गई हैं. महाराष्ट्र की निधि चौधरी नाम की एक आईएएस ने 17 मई को एक विवादित टिप्पणी की, जिसमें लिखा था कि हम गांधी की 150वीं जयंती मना रहे हैं, इससे बढ़िया मौका क्या हो सकता है कि हम अपने नोटों से उनकी तस्वीर हटा दें. दुनिया भर से उनकी मूर्तियां हटा दें. इस ट्वीट के लिए निधि चौधरी की खूब आलोचना हुई. इसके बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया है, लेकिन एनसीपी ने उन्हें नौकरी से सस्पेंड करने की मांग की है.
निधि चौधरी 2012 बैच की आईएएस हैं. इस वक्त वह BMC में कार्यरत हैं. इससे पहले वह सहायक कलेक्टर रह चुकी हैं. 17 मई को एक ट्वीट में उन्होंने लिखा था, “हम शानदार रूप से 150वीं जयंती मना रहे हैं, यही मौका है कि हम अपने नोटों से उनकी तस्वीर हटा दें, दुनिया भर से उनकी मूर्तियां हटा दें, उनके नाम से रखी गई संस्थाएं और सड़कों के नाम बदल दें, ये हम सभी की ओर से उन्हें असली श्रद्धांजलि होगी, 30 जनवरी 1948 के लिए थैंक्यू गोडसे.” निधि चौधरी के इस ट्वीट पर एनसीपी ने कड़ी आपत्ति जताई है और उन्हें नौकरी से सस्पेंड करने की मांग की है. एनसीपी नेता जितेंद्र अनहद ने कहा कि गांधी जी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी के लिए हम तुरंत निधि चौधरी के सस्पेंशन की मांग करते हैं, उन्होंने नाथूराम गोडसे को महिमामंडित किया है, इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है.” इस ट्वीट पर विवाद होने के बाद निधि चौधरी ने इसे डिलीट कर दिया. निधि ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा, “17 मई के अपने ट्वीट को मैंने डिलीट कर दिया, क्योंकि कुछ लोग इसे गलत समझ गए. अगर वो 2011 से मेरे टाइमलाइन को फॉलो किए हुए होते तो वे समझते कि मैं गांधी जी का अनादर करने की सोच भी नहीं सकती हूं, मैं उनके सामने पूरी श्रद्धा से सिर नवाती हूं और अपनी आखिरी सांस तक ऐसा करती रहूंगी.” साभार  आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a comment

Start typing and press Enter to search