[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

पत्रकारों को बंद करने पर बोलीं प्रियंका- पब्लिक सवाल पूछेगी और जवाब भी लेगी

नई दिल्ली    :   उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुरादाबाद में जिला अस्पताल के दौरे के दौरान पत्रकारों को कमरे में बंद किए जाने को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है. प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, पत्रकार बंधक बनाए जा रहे हैं, सवालों पर पर्दा डाला जा रहा है, समस्याओं को दरकिनार किया जा रहा है.
प्रियंका गांधी ने कहा कि प्रचंड बहुमत पाने वाली उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार जनता के सवालों से मुंह बिचका रही है. पब्लिक सब जानती है, सवाल पूछेगी भी और जवाब लेगी भी. वहीं कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पत्रकारों के साथ जो हुआ वो बहुत ही गलत हुआ, कांग्रेस पार्टी इसकी निंदा करती है. उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या है. योगीराज में पत्रकारों को नजरबंद कर दिया गया. इस मुद्दे को हम विधानसभा में उठाएंगे. उन्होंने कहा कि पत्रकारों के साथ हुए अत्याचार के मामले पर हम सड़कों पर भी उतरेंगे. योगीराज में कोई भी सुरक्षित नहीं है.बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को मुरादाबाद जिले के दौरे पर थे. इस दौरान उन्होंने मुरादाबाद के जिला अस्पताल का भी निरीक्षण किया. खबर है कि मुरादाबाद के डीएम ने सीएम के दौरे के दौरान वहां मौजूद पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद कर दिया जिससे पत्रकार बदहाल अस्पताल से जुड़े सवाल मुख्यमंत्री योगी से ना पूछ सकें. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब अस्पताल का दौरा करके वापस लौट गए तो इमरजेंसी वार्ड का दरवाजा खोला गया तो पत्रकार बाहर निकलें.वहीं इस पूरे मामले पर डीएम राकेश कुमार सिंह ने सफाई दी है. उन्होंने कहा, सोशल मीडिया पर एक गलत खबर फैलाई जा रही है कि मीडियाकर्मियों को इमरजेंसी वार्ड में बंद कर दिया गया था. जबकि सही ये है कि हॉस्पिटल वार्ड में भारी संख्या में एकत्रित मीडियाकर्मियों को अगर जाने दिया जाता तो इलाज करा रहे मरीजों को दिक्कत का सामना करना पड़ता. इसके साथ ही उन्हें इंफेक्शन का भी खतरा रहता. इसलिए जाने से रोका गया था. इन बातों को ध्यान में रखते हुए मीडियाकर्मियों को इमरजेंसी वार्ड के गेट पर रोक दिया गया था ना कि बंद किया गया था.बता दें कि इससे पहले प्रियंका गांधी ने ट्वीट के जरिए योगी आदित्यनाथ सरकार में गिरती कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल पूछा था, क्या उत्तर प्रदेश सरकार ने अपराधियों के सामने समर्पण कर दिया है? साभार  आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search