[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

तूफान वायु से सहमा गुजरात, दो दिन के लिए स्कूल बंद, अफसरों की छुट्टी रद्द, अलर्ट पर सेना

नई दिल्ली  :   भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने गुजरात के तटवर्ती इलाकों में चक्रवाती तूफान वायु आने की चेतावनी दी है. मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर से उठने वाला चक्रवाती तूफान वायु 75 किलोमीटर से लेकर अधिकतम 135 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार के साथ प्रदेश के कई इलाकों में चलेगा. चक्रवाती तूफान 12-13 जून को सौराष्ट्र तट पर दस्तक दे सकता है.
तूफान के कारण अहमदाबाद, गांधीनगर और राजकोट समेत तटवर्ती इलाके वेरावल, भुज और सूरत में हल्की बारिश हो सकती है. चक्रवात के कारण सौराष्ट्र के भावनगर, अमरेली, सोमनाथ, वेरावल, जामनगर, पोरबंदर और कच्छ समेत कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है. वहीं चक्रवात के मामले को देखते हुए गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने अधिकारियों के साथ बैठक की. चक्रवात वायु के मद्देनजर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पूरे राज्य में 13 से 15 जून तक 3 दिवसीय शाला प्रवेशोत्सव (स्कूल उत्सव का स्वागत) रद्द कर दिया है. वहीं जहां चक्रवात का असर देखा जा सकता है उन 10 जिलों के स्कूलों और कॉलेजों में 13 और 14 जून को दो दिन की छुट्टी की घोषणा की है. वहीं वलसाड में बारिश ने भी दस्तक दे दी है. आईएमडी के मुताबिक 90-100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवा चलेगी और अरब सागर से चलकर उत्तरपूर्वी इलाके में इसकी रफ्तार 115 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है. मौसम विभाग ने कहा कि 12 जून को दक्षिण गुजरात और महाराष्ट्र के तटवर्ती इलाके में 50-60 किलोमीटर से लेकर 70 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलेगी और 13 जून को इसकी रफ्तार अरब सागर से सटे उत्तरी इलाके में 110-120 किलोमीटर से लेकर 135 किलोमीटर हो जाएगी.ऐसा अनुमान लगाया गया है कि यह चक्रवाती तूफान 13 जून की सुबह पोरबंदर और महुआ के बीच वेरावल और दीव के बीच समुद्र तट को पार करेगा. मौसम विभाग ने फिलहाल सभी बंदरगाहों पर साइक्लोनिक वॉर्निंग जारी किया है और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है. साथ ही बंदरगाहों को खतरे के संकेत और सूचना जारी करने को कहा गया है. वहीं इसे देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है और पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. चक्रवात को लेकर सेना और एनडीआरएफ की टीमें अलर्ट पर हैं.गुजरात में एनडीआएफ की कुल 26 टीमें लगाई गई हैं तो वहीं 10 को स्टैंडबाय पर रखा गया है. 26 में से 16 टीमों को राजकोट में तैनात किया गया है. साभार  आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search