[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

टीम इंडिया की आंधी में उड़ा ऑस्ट्रेलिया, 36 रनों से दी करारी शिकस्त

मुंबई  :    शिखर धवन और कप्तान विराट कोहली की शानदार पारी के बाद गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने यहां केनिंग्टन ओवल मैदान पर रविवार को खेले गए विश्व कप-2019 में लगातार दूसरी जीत दर्ज की. वनडे क्रिकेट में यह इंडिया की ऑस्ट्रेलिया पर 50वीं जीत है. भारत द्वारा दिए गए 353 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया की टीम निर्धारित 50 ओवर में 316 रनों पर ही ऑलआउट हो गई. भारत की टूर्नामेंट में यह लगातार दूसरी जीत है, उसने अपने पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को मात दी थी. विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की यह अबतक की चौथी जीत है. इस जीत के बाद भारत तालिका में चार अंकों के साथ तीसरे पायदान पर पहुंच गया है. लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी रही. कप्तान एरोन फिंच ने डेविड वॉर्नर के साथ मिलकर सधी हुई शुरुआत की और टीम के स्कोर को 50 के पार ले गए. 61 के कुल योग पर वार्नर और फिंच के बीच तालमेल में कमी आई और अस्ट्रेलियाई कप्तान रन आउट हो गए. फिंच ने 35 गेदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से 36 रन जड़े. इसके बाद, वार्नर ने पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ मिलकर अपनी टीम की पारी को आगे बढ़ाया. दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी हुई. स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में वार्नर 56 के निजी स्कोर पर अपना विकेट गंवा बैठे. उन्होंने 84 गेंदों की अपनी पारी में पांच चौके लगाए. बांए हाथ के बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा (42) और स्मिथ ऑस्ट्रेलिया के कुल योग को 200 के पार ले गए. जसप्रीत बुमराह ने ख्वाजा को पवेलियन की राह दिखाकर भारत को तीसरी सफलता दिलाई. कप्तान विराट कोहली ने गेंदबाजी में बदलाव किया. वह तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को लेकर आए जिसका लाभ भारत को जल्द मिला. भुवनेश्वर ने भारत के लिए खतरनाक दिख रहे स्मिथ को 69 के निजी स्कोर पर आउट किया. मार्कस स्टोइनिस अपना खाता भी नहीं खोल पाए और भुवनेश्वर का दूसरा शिकार बने. यहां से अखिरी 10 ओवर में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 115 रनों की दरकार थी. ऑस्ट्रेलिया को ऑलराउंडर ग्लैन मैक्सवेल से धमाकेदार पारी की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. मैक्सवेल 28 के निजी स्कोर पर चहल का दूसरा शिकार बने. उन्होंने 14 गेंदों पर पांच चौके लगाए. एलेक्स कैरी ने एक छोर संभाले रखा. बुमराह ने दूसरे छोर पर नाथन कल्टर नाइल (4) को आउट करके ऑस्ट्रेलिया की मुश्किलें और बढ़ा दी. पैट कमिंस (8) को भी बुमराह ने अपना शिकार बनाया. मिशेल स्टार्क (3) और एडम जाम्पा (1) भी सस्ते भी पवेलियन लौट गए. कैरी ने नाबाद 55 रनों का योगदान दिया. भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि युजवेंद्र चहल ने दो विकेट चटकाए. इससे पहले, टॉस जीतकर कोहली ने बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया जो सही साबित हुआ. धवन और कोहली ने दमदार बल्लेबाजी की और अपनी टीम को विश्व कप में अब तक का चौथा सबसे बड़ा स्कोर हासिल करने में मदद की. किसी भी टीम ने इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्व कप में 350 या उससे अधिक रन नहीं बनाए थे. साभार  आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a comment

Start typing and press Enter to search