[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

ममता के करीबी राजीव कुमार पर गिरफ्तारी की तलवार, समन लेकर घर पहुंची CBI

नई दिल्ली  :  कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पर गिरफ्तारी की तलवार मंडरा रही है. सीबीआई ने सारदा स्कैम मामले में राजीव कुमार से पूछताछ के लिए उन्हें समन भेजा है. रविवार की शाम को सीबीआई के 8 अधिकारी कोलकाता स्थित राजीव कुमार के घर पहुंचे. हालांकि राजीव कुमार अपने घर पर मौजूद नहीं थे. सीबीआई के अधिकारियों ने स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना दे दी है. सीबीआई ने राजीव कुमार को इस मामले में पूछताछ के लिए सोमवार को बुलाया है.
सीबीआई का कहना है कि वे राजीव कुमार को कस्टडी में लेकर पूछताछ करना चाहते हैं. इसका मतलब यह है कि अगर राजीव कुमार सोमवार को पूछताछ के लिए सीबीआई के सामने पेश होते हैं तो सीबीआई उन्हें गिरफ्तार कर सकती है. हाल ही में लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग ने राजीव कुमार का तबादला दिल्ली कर दिया था, लेकिन आचार संहिता समाप्त होने के बाद उन्हें एक बार फिर से कोलकाता पुलिस ज्वाइन करने को कहा गया है.सूत्रों ने बताया है कि राजीव कुमार अग्रिम जमानत के लिए सोमवार को पश्चिम बंगाल की एक स्थानीय अदालत (बरासत) में अर्जी दे सकते हैं. यदि ये अदालत राजीव कुमार को अग्रिम जमानत दे देती है तो सीबीआई उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पाएगी. राजीव कुमार को सुप्रीम कोर्ट से 24 मई तक गिरफ्तारी से संरक्षण मिला हुआ था. लेकिन अब ये अवधि समाप्त हो गई है. इधर सीबीआई ने राजीव कुमार के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किया है. सूत्रों के मुताबिक ये सर्कुलर 23 मई को जारी किया गया था. अब सभी एयरपोर्ट और अंतर्राष्ट्रीय सीमा की निगरानी कर रहे एजेंसियों को को कह दिया गया है कि अगर राजीव कुमार देश से बाहर जाने की कोशिश करते हैं तो उन्हें रोका जाए.राजीव कुमार पर शारदा चिटफंड और रोजवैली स्कैम की जांच के दौरान सबूतों से छेड़छाड़ का आरोप है. शारदा घोटाले की जांच के लिए 2013 में ममता सरकार ने एसआईटी का गठन किया था. इसकी अगुवाई राजीव कुमार कर रहे थे. बाद में इस मामले को सीबीआई के पास भेज दिया गया था. सीबीआई का दावा है कि केस ट्रांसफर होने के बाद भी राजीव कुमार ने कई सबूतों को उन्हें नहीं सौंपा और उन्होंने कई सबूतों को नष्ट कर दिया था.इस मामले में सीबीआई कोलकाता में राजीव कुमार के ठिकाने पर छापेमारी की कोशिश कर चुकी है. इसी साल जब फरवरी में सीबीआई ने राजीव कुमार से पूछताछ की कोशिश की तो ममता बनर्जी सीबीआई की इस कार्रवाई के खिलाफ धरने पर बैठ गई थीं. इस मसले पर ममता बनर्जी केंद्र पर जमकर बरसी थीं. साभार  आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search