[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

भारतीय सेना ने पूर्वोत्तर में कर दी बड़ी स्ट्राइक? दर्जनों कैंपों का सफाया

नई दिल्ली: पुलवामा हमले के बाद जहां पूरे देश और दुनिया की निगाहें भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर लगी थी. उसी दौरान इंडियन आर्मी के जांबाज एक नए ठिकाने पर देश के दुश्मनों को ठिकाने लगा रहे थे.
भारत और म्यांमार की सेना ने भारत-म्यांमार बॉर्डर पर 17 फरवरी से लेकर 2 मार्च तक एक मेगा ऑपरेशन चलाया था. इस दौरान पूर्वोत्तर में भारत के एक मेगा इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट पर हमले के मंसूबे को नाकाम कर दिया गया. इस प्रोजेक्ट पर म्यांमार के एक उग्रवादी संगठन टेढ़ी निगाहें थीं.खास बात ये हैं कि पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ काफिले पर हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच टेंशन टॉप लेवल पर पहुंच गई थी. इसी दौरान 26 फरवरी को भारत ने पाकिस्तान में घुसकर बालाकोट पर हमला कर जैश के आतंकी ठिकानों को नेस्तानाबूद कर दिया. इसी दौरान इंडियन आर्मी ने म्यामांर की अराकान आर्मी पर हमला बोला. इस आर्मी को काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी (KIA) का वरदहस्त हासिल है. इस संगठन को म्यांमार की सरकार ने आतंकी संगठन घोषित कर रखा है. अराकान आर्मी मेगा कालादान प्रोजेक्ट पर हमले की साजिश रच रहा था. ये एक ट्रांजिट प्रोजेक्ट है जो कोलकाता के हल्दिया पोर्ट को म्यांमार के सित्वे पोर्ट (Sitwe port) से जोड़ेगा.  साभार आजतक

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search