[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

संस्कृति मंत्री डॉ. साधौ ने किया “अद्वितीया समारोह का शुभारंभ

भोपाल : संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने भारत भवन में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में दो-दिवसीय ‘अद्वितीया” समारोह का शुभारंभ करते हुए कहा कि किसी भी लड़की में प्रतिभा की कमी नहीं होती है। आवश्यकता है मंच और अवसर मिलने की। उन्होंने कहा कि आज हर जगह लड़कियाँ अपनी सफलता का परचम फहरा रही हैं। यह प्रगति माता-पिता की जागरूकता के कारण संभव हुई है।
डॉ. साधौ ने कहा कि भारत भवन अपने पुराने वैभव की ओर तेजी से लौट रहा है। रसिकजन यदि ठान लें, तो कला और संस्कृति उच्च शिखर पर पहुँच सकती है। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय वायलिन वादक श्रीमती एन. राजम का स्वागत और प्रशंसा करते हुए कहा कि पुत्री और नातिनों को कला की सेवा में निष्णात करना बड़ी बात है। इससे कला का क्षेत्र समृद्ध होगा। एन. राजम ने कहा कि वह भारत भवन में प्रस्तुतियाँ देती रही हैं, परंतु इस बार अपने परिवार के साथ पहली बार सामूहिक प्रस्तुति, वह भी अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर, एक अनोखा अनुभव है। राजम के साथ आज उनकी पुत्री संगीता शंकर ने अपनी पुत्रियों रागिनी शंकर और नंदिनी शंकर के साथ सामूहिक वायलिन प्रस्तुति देकर मंत्रमुग्ध कर दिया। अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त युवा तबला वादक ईशान घोष ने तबले पर संगत की। घोष 7 वर्ष की उम्र से तबला वादन कर रहे हैं। न्यासी सचिव रेनु तिवारी ने स्वागत वक्तव्य दिया। मंत्री डॉ. साधौ ने महिला आदिवासी कलाकारों भूरीबाई, दुर्गाबाई, कलाबाई, सतरूपा उर्वशी, सीताबाई, भारती आदि की कलाकृतियों की प्रदर्शनी ‘आदिरूपा’ का शुभारंभ भी किया। प्रशासक भारत भवन प्रेमशंकर ने आभार माना।

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search