[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

महिला तैराकों का वीडियो बनाने वाला पैरा स्विमर तीन साल के लिए सस्पेंड

मुंबई: पैरा स्विमर प्रशांत कर्माकर को पिछले साल जयपुर में राष्ट्रीय चैंपियनशिप के दौरान कथित तौर पर अपनी महिला साथियों का वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए पैरा ओलंपिक कमिटी ऑफ इंडिया (पीसीआई) ने गुरुवार को तीन साल के लिए निलंबित कर दिया.
पीसीआई की विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘दुर्व्यवहार, कदाचार और हाथापाई की लिखित शिकायत पर कॉमनवेल्थ गेम्स 2010 के कांस्य पदक विजेता के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था.’ कर्माकर ने कथित तौर पर अपने एक सहयोगी को प्रतियोगिता के दौरान महिला तैराकों की फिल्म बनाने के लिए कहा. इन तैराकों के परिजनों ने इस पर आपत्ति जताई जिसके बाद इस सहयोगी ने पीसीआई में पैरा स्विमर के चेयरमैन वीके डबास से कहा कि कर्माकर ने उन्हें तैराकों की फिल्म बनाने के निर्देश दिए थे. पीसीआई ने दावा किया कि कर्माकर को भी अपने ट्राइपोड कैमरा से महिला तैराकों का वीडियो बनाते हुए पकड़ा गया था. पीसीआई ने कहा, ‘कर्माकर को चेयरमैन ने बुलाया तो उन्होंने गुस्से में चेयरमैन और पीसीआई के अन्य पदाधिकारियों से कहा कि उन्होंने उनके साथी को वीडियो बनाने से क्यों रोका.’ विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘कर्माकर ने पीसीआई पदाधिकारियों से लिखित आपत्ति दिखाने के लिए कहा. परिजनों ने तुरंत ही लिखित शिकायत की. कर्माकर ने डबास और हरियाणा के महिपाल सिंह आर्य के साथ बहस की और कहा कि वह अर्जुन पुरस्कार विजेता है तथा उन्होंने तैराकों की वीडियो रिकार्डिंग डिलीट करने से इन्कार कर दिया.’ इस 37 वर्षीय तैराक को पुलिस ने हिरासत में लिया था, लेकिन वीडियो और फोटो डिलीट करने पर सहमति जताने के बाद उन्हें रिहा कर दिया गया. साभार aaj tak

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search