[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

दो दर्जन से अधिक गांवों में पहुंचा मुख्यमंत्री का रोड शो

मुंगावली: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मुंगावली क्षेत्र के मल्हारगढ़ में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मुंगावली विधानसभा क्षेत्र उपचुनाव क्षेत्रीय विकास और जनकल्याण के कार्यो को सघन बनाने का सफल अवसर सिद्ध होगा। इस क्षेत्र में पिछले दिनों सांसद और विधायक कांग्रेस से रहे हैं। क्षेत्रीय विकास की दृष्टि से मुंगावली पिछड़ गया है। जहां प्रदेश के दूसरे अंचल विकास की मुख्यधारा से जुड़ते गये वहां मंुगावली का यह क्षेत्र पिछड़ता रहा है। मुंगावली को विकास की मुख्यधारा से जोड़ना भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2003 में प्रदेश में सत्ता की बागडोर संभाली थी। बिजली, पानी, सड़कों के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव आया है। सिंचाई का रकबा साढ़े सात लाख हेक्टर से बढ़कर प्रदेश में चालीस लाख हेक्टर हो गया है। हर खेत को पानी देने के लिए प्रदेश में एक लाख हेक्टर तक सिंचाई सिंचन क्षमता की वृद्धि की जायेगी। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की अनेक समस्याएं हैं। चुनाव आचार संहिता का हमें पालन करना है। घोषणा नहीं की जा सकती लेकिन पुल का निर्माण और संस्कृत विद्यालय जैसी समस्याओं का समाधान करना लोकतंत्र की प्रतिबद्धता है। भारतीय जनता पार्टी पीछे रहने वाली नहीं है।
मल्हारगढ़ में सभा के पश्चात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने निसई, पिपरिया, पत्थरगढ़, बिल्हेरू, बम्होरी, खजुरिया, नरखेडा, टाडा सहित 2 दर्जन से अधिक गांवों में जनदर्शन के दौरान ग्रामीणों से संवाद किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसानों की आय दोगुनी करने का प्रधानमंत्री का संकल्प है। हम इस कार्य में जुटे हुए हैं। गेहूं का समर्थन मूल्य केंद्र सरकार ने बढ़ाया है। मध्यप्रदेश सरकार समर्थन मूल्य के अलावा प्रति क्विंटल 265 रू. की पूर्ति करेगा, जिससे किसान का गेहूं न्यूनतम 2000 रू. क्विंटल का मूल्य किसान को सुनिश्चित करेगा। इसकी लागत और लाभ किसान की जेब में पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री भावान्तर भुगतान योजना आरंभ करके किसान की जिंसों का मूल्य गिरने नहीं दिया है और भावान्तर राशि किसान के खाते में जमा करने का सिलसिला जारी है। ओला पीड़ित किसानों को जल्दी ही सर्वेक्षण रिपोर्ट आते ही 30 हजार रू. प्रति हेक्टर की दर से (लघु सीमांत किसान) राहत राशि दी जायेगी। किसान की खुशहाली भाजपा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस ने किसानों को भावनाओं से ठगा है। 18 प्रतिशत ब्याज वसूलकर ऋणग्रस्त बनाया है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने प्रदेश में किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज की दर से कर्ज दिया है और खाद, बीज के लिए लिए गये कर्ज पर 10 प्रतिशत की छूट भी देकर खुशहाल बनाया है।

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search