[Latest News][6]

गैलरी
देश
राजनीति
राज्य
विदेश
व्यापार
स्पोर्ट्स
स्वास्थ्य

आतंकी सब्जार भट मारा गया


श्रीनगर: सुरक्षा बलों ने कश्मीर के त्राल में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर सब्जार अहमद भट को मार गिराया है. इस कार्रवाई में एक और आतंकी फैज़ान मुजफ्फर भट भी मारा गया है. ये दोनों आतंकी पुलवामा जिले के त्राल सेक्टर में एक मकान में छुपे थे. यहां पर सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस का ये ऑपरेशन शुक्रवार से चल रहा है. यहां पर एक और आतंकी के छिपे होने की आशंका है. फिलहाल यहां हालात काफी तनावपूर्ण हो गए हैं क्योंकि दोनों आतंकी त्राल के ही रहने वाले थे इसलिए कुछ लोग प्रदर्शन कर रहे हैं.
हिजबुल आतंकी सब्जार अहमद भट के मारे जाने से सुरक्षा बलों ने राहत की सांस ली है. ये हिजबुल के मारे गए आतंकी बुरहान बानी का उत्तराधिकारी था. 14 अप्रैल 2015 से ये आतंकी बना था और ए++ कैटगरी का खतरनाक आतंकी था. वही फैज़ान बी केटेगरी का आतंकी था और इसी साल मार्च में आतंकी संगठन में शामिल हुआ था. आपको बता दें दक्षिण कश्मीर आतंकियों का गढ़ बना हुआ है. इस इलाके में सैकड़ों आतंकी सक्रिय हैं. इससे पहले लश्कर का कमांडर दुजाना भी सुरक्षा बलों को चकमा देकर भाग निकला था लेकिन सब्जार जैसे आतंकियो को मारकर सुरक्षा बलों को बहुत बड़ी कामयाबी मिली है. इसके अलावा शनिवार तड़के ही सेना ने बारामूला जिले के रामपुर सेक्टर में एलओसी के जरिये घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे छह आतंकियों को मार गिराया. यानी मुठभेड़ की इन दोनों घटनाओं में कुल आठ आतंकी मार गिराए गए. जिस इलाके में शनिवार को सेना ने छह आतंकियों को मार गिराया है उसी एरिया से पिछले साल 18 सितंबर को चार आतंकियों ने सेना के उड़ी कैंप पर हमला किया था जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद ही सेना ने 28 सितंबर को एलओसी पार आतंकियों के लॉन्चिंग पैड पर सर्जिकल हमला कर कई आतंकियों को मार गिराया था. इससे पहले शुक्रवार को सेना ने कश्मीर के उड़ी में ही नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी कि बैट (BAT) के दो हमलावर आतंकियों को मार गिराया. शुक्रवार सुबह आठ बजकर 40 मिनट पर सेना के गश्ती दल पर जब आतंकियों ने हमला किया तो सेना के जवानों ने इन पाक हमलावरों को मार गिराया. ये घटना झेलम नदी के दक्षिण में हुई जब ये हमलावर एलओसी के 700 मीटर अंदर आ गए थे. जब सेना ने जवाबी कार्रवाई की तो ये वापस पाक पोस्ट की ओर भागने लगे. इसके बाद एलओसी से 200 मीटर अंदर इन बैट के आतंकियों को सेना ने मार गिराया. मारे गए हमलावरों के शव और हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं. इनके पास से एक एके-47 राइफल, एक पिस्टल और भारी तादाद में गोला बारूद मिले हैं. ये दोनों पठानी सूट पहने थे और शॉल भी लिए थे. खबर है कि इनके साथ दो और बैट के आतंकी थे लकिन संभवत: वो वापस पाक की ओर भाग गये हों लेकिन अभी तक इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हो पाई है. आपको ये बता दें कि पाक की बॉर्डर एक्शन टीम यानी कि बैट ऐसी टीम है जिसमें पाक सेना और आतंकी दोनों होते हैं. इनका काम मौका मिलते ही एलओसी पर भारतीय सेना के जवानों पर घात लगाकर हमला करना होता है. सीमा पर जितने भी जवानों के शव के साथ छेड़छाड़ हुई है उसके पीछे बैट का ही हाथ होता है. साभार ndtv

About Author Umesh Nigam

crime reporter.

No comments:

Post a Comment

Start typing and press Enter to search